राजा ने आदेश दिया

1 min read

राजा ने आदेश दिया : बोलना बन्द
क्योंकि लोग बोलते हैं तो राजा के विरुद्ध बोलते हैं।

राजा ने आदेश दिया : लिखना बन्द
क्योंकि लोग लिखते हैं तो राजा के विरुद्ध लिखते हैं।

राजा ने आदेश दिया : चलना बन्द
क्योंकि लोग चलते हैं तो राजा के विरुद्ध चलते हैं।

राजा ने आदेश दिया : हँसना बन्द
क्योंकि लोग हँसते हैं तो राजा के विरुद्ध हँसते हैं।

राजा ने आदेश दिया : होना बन्द
क्योंकि लोग होते हैं तो राजा के विरुद्ध होते हैं।

इस तरह राजा के आदेशों ने लोगों को
उनकी छोटी-छोटी क्रियाओं का महत्त्व बताया।

देवी प्रसाद मिश्र

देवी प्रसाद मिश्र (जन्म - 1958) हिंदी के अग्रणी कवियों में से एक हैं. आपको 1987 के भारतभूषण अग्रवाल पुरस्कार से सम्मानित किया गया. प्रार्थना के शिल्प में नहीं आपकी प्रमुख कृति है.

देवी प्रसाद मिश्र (जन्म - 1958) हिंदी के अग्रणी कवियों में से एक हैं. आपको 1987 के भारतभूषण अग्रवाल पुरस्कार से सम्मानित किया गया. प्रार्थना के शिल्प में नहीं आपकी प्रमुख कृति है.

नवीनतम

फूल झरे

फूल झरे जोगिन के द्वार हरी-हरी अँजुरी में भर-भर के प्रीत नई रात करे चाँद की

पाप

पाप करना पाप नहीं पाप की बात करना पाप है पाप करने वाले नहीं डरते पाप

तुमने छोड़ा शहर

तुम ने छोड़ा शहर धूप दुबली हुई पीलिया हो गया है अमलतास को बीच में जो